Breaking Newsदिल्ली

अमेरिका में खूनी हिंसा से पीएम मोदी चिंतित

अमेरिका में खूनी हिंसा से पीएम मोदी चिंतित, ट्वीट कर दी सलाह- शांति से होना चाहिए सत्ता का हस्तांतरण

शिवपुरी ! ब्यूरो नेटवर्क इंडिया न्यूज

अमेरिका में चुनावी नतीजों को लेकर ट्रंप समर्थक और पुलिस के बीच खूनी झड़प के बीच पीएम मोदी की प्रतिक्रिया आई है। पीएम मोदी ने अमेरिकी हिंसा पर दुख जताया है और सलाह दी है कि शांति तरीके से सत्ता का ट्रांसफर किया जाना चाहिए। लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी विरोध-प्रदर्शन से प्रभावित नहीं किया जा सकता। बता दें कि बुधवार रात (भारतीय समयानुसार) अमेरिका में कैपिटल परिसर के बाहर निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई, जिसमें एक महिला की मौत हो गई।

अमेरिकी हिंसा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘वॉशिंगटन डीसी में दंगों और हिंसा के बारे में जानकर परेशान हूं। सत्ता का शांतिपूर्ण और व्यवस्थित तरीके से हस्तांतरण जारी रहना चाहिए। लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी विरोध-प्रदर्शन के माध्यम से प्रभावित नहीं होने दिया जा सकता है।’

दरअसल, कैपिटल के भीतर यह घोषणा की गई कि बाहरी सुरक्षा खतरे के कारण कोई व्यक्ति कैपिटोल परिसर से बाहर या उसके भीतर नहीं जा सकता।  जब नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन की जीत को प्रमाणित करने के लिए सांसद संसद के संयुक्त सत्र के लिए कैपिटोल के भीतर बैठे थे, तभी यूएस (अमेरिका) कैपिटोल पुलिस ने इसके भीतर सुरक्षा के उल्लंघन की घोषणा की।

कैपिटल के बाहर पुलिस और ट्रंप समर्थकों के बीच झड़प हुई। प्रदर्शनकारियों ने कैपिटल की सीढ़ियों के नीचे लगे अवरोधक तोड़ दिए। कैपिटल पुलिस ने बताया कि इलाके में एक संदिग्ध पैकेट भी मिला है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संसद का संयुक्त सत्र शुरू होने से ठीक पहले कहा कि वह चुनाव में हार को स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें धांधली हुई है और यह धांधली उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडन के लिए की गई, जो नवनिर्वाचित राष्ट्रपति हैं।  ट्रंप ने वाशिंगटन डीसी में अपने हजारों समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि जब धांधली हुई हो तब आपको अपनी हार स्वीकार नहीं करनी चाहिए।  ट्रंप ने एक घंटे से अधिक के अपने भाषण में दावा किया कि उन्होंने इस चुनाव में शानदार जीत हासिल की है।

Related Articles

Back to top button
Close